Essay On Kaziranga National Park In Hindi

It is noteworthy to mention that it is the host for two third of world’s population of endangered Indian one-horned rhinoceros and also declared as a tiger reserve in 2006, holding the highest density of tigers in the world. The park is also a domicile for large breeding inhabitants of Elephants, wild water buffaloes and Swamp Deer. It has been declared as a forest reserve in the year of 1908 and wildlife sanctuary in the year of 1950. Covering an approximate area of 430 square kilometers, Kaziranga was declared as a World Heritage Site by UNESCO for its unique natural environment in the year of 1985. Apart from this, the park has been identified as an important bird area by Birdlife International Society as it is a home to various species of migrating and inhabitant birds. Situated on the banks of river Brahmaputra, the sanctuary is blessed with the four different kinds of vegetation. The Tropical moist mixed deciduous forests and tropical semi-evergreen forests is marked by the 41% of the tall grasses, 29% open jungle, 11% short grasses and rest is covered with the rivers and the water bodies. Its breathtaking array of flora and diverse fauna adds value to the scenic beauty of the park.

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम के गर्व में से एक है। यह उल्लेख करना जरूरी है कि यह लुप्तप्राय भारतीय एक सींग वाले गैंडे का घर है और दुनिया में बाघों की सबसे अधिक घनत्व को समयोजित करते हुए, 2006 में इसे बाघ अभयारण्य के रूप में भी घोषित किया गया। राष्ट्रीय उद्यान एक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल भी है। यह लगभग 429.93 कि.मी के वर्ग के क्षेत्र वाला एक बड़ा उद्यान है। यह असम के दो जिलों - गोलाघाट और नोआगांव के अंतर्गत आता है।

काजीरंगा पर्यटन कई एक सींग वाला गैंडा या बाघों में से एक खोलना के बारे में अभी नहीं है कि शान से पैदल चलना बड़ा आधार है, लेकिन यह भी अर्थात् उद्यान में रहते हैं कि तीन बड़े शाकाहारी, एशियाई हाथी, एशियाई पानी भैंस और देखने के लिए दलदली हिरण।

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान का जंगली चिडि़यों की प्रजातियों के संरक्षण के प्रयास के लिए बर्डलाइफ इंटरनेशनल द्वारा एक महत्वपूर्ण पक्षी क्षेत्र के रूप में सीमांकन भी किया गया है। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में कई आकर्षणों में से एक है प्रशिक्षित महावत द्वारा परिचालित उद्यान के अंदर हाथियों पर यात्रा करना है।

इन राजसी जानवरों पर खुले मैदान में घूमना एक विशेष सौगात है। राष्ट्रीय उद्यान को देखने के अन्य विकल्प हैं जीप या चौपहिया वाहन बुक करना। इन्हें उद्यान प्रशासनिक केंद्र से पहले से आरक्षित किया जाना चाहिए।

+ अधिक पढ़ें

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *